To Make Your Devotional Journey More Blissful,
DevDarshan will become DevDham
Connecting You with Sacred Temples and Vedic Traditions 🙏
आपकी आध्यात्मिक यात्रा को और समृद्धशाली और सुखद बनाने के लिए आपका
देवदर्शन जल्द बनेगा देवधाम
जहां होगा भारत के दिव्य मंदिरों और वैदिक परंपराओं का संगम 🙏

Campaign Goals
अभियान के लक्ष्य
amount
amount
Brahman Bhojan
44 of 300 Booked
₹ 451 for Seva
ब्राह्मण भोजन
300 में से 44 बुक
₹ 451 सेवा के लिए
Gau Seva
45 of 300 Booked
₹ 201 for Seva
गौ सेवा
300 में से 45 बुक
₹ 201 सेवा के लिए


bookendL

bookend
1

2

3

4

bookendL

bookend

t0 Circle

751

1 Brahman Bhojan + 1 Gau Seva + 1 Deep Daan

1 ब्राह्मण भोजन + 1 गौ सेवा + 1 दीप दान

t1 pricecardline
  • CardLow

    Bhojan and Dakshina will be offered to 1 Brahman in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Gau Seva will be offered in your name to 1 cow. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    1 Diya will be offered in your name and recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Your Name and Gotra will be chanted during the Sankalp in Jagannath Puri Tirth Kshetra

  • CardLow

    आपके नाम में एक ब्राह्मण को भोजन करवाया जाएगा। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से एक गाय की सेवा की जाएगी। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से एक दीपदान किया जाएगा। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके इस पुण्य कार्य से पहले जगन्नाथ पूरी तीर्थ क्षेत्र में संकल्प के समय, आपके नाम और गोत्र का उच्चारण किया जाएगा

t1 Circle

2100

3 Brahman Bhojan + 3 Gau Seva + 3 Deep Daan

3 ब्राह्मण भोजन + 3 गौसेवा + 3 दीपदान

t1 pricecardline
  • CardLow

    Bhojan and Dakshina will be offered to 3 Brahmans in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Gau Seva will be offered to 3 cows in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    3 Diyas will be offered in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you

  • CardLow

    Your Name and Gotra will be chanted during the Sankalp in Jagannath Puri Tirth Kshetra

  • CardLow

    आपके नाम में तीन ब्राह्मण को भोजन करवाया जाएगा। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से तीन गाय की सेवा की जाएगी। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से 3 दीपदान किया जाएगा। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके इस पुण्य कार्य से पहले जगन्नाथ पुरी तीर्थ क्षेत्र में संकल्प के समय, आपके नाम और गोत्र का उच्चारण किया जाएगा

t2 Circle

3551

5 Brahman Bhojan + 5 Gau Seva + 5 Deep Daan

5 ब्राह्मण भोजन + 5 गौसेवा + 5 दीपदान

t1 pricecardline
  • CardLow

    Bhojan and Dakshina will be offered to 5 Brahmans in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Gau Seva will be offered to 5 cows in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    5 Diyas will be offered in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Your Name and Gotra will be chanted during the Sankalp in Jagannath Puri Tirth Kshetra

  • CardLow

    आपके नाम में पांच ब्राह्मण को भोजन करवाया जाएगा। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से पांच गाय की सेवा की जाएगी। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से 5 दीपदान किया जाएगा। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके इस पुण्य कार्य से पहले जगन्नाथ पुरी तीर्थ क्षेत्र में संकल्प के समय, आपके नाम और गोत्र का उच्चारण किया जाएगा

t3 Circle

DIY

Brahman Bhojan + Gau Seva + Deep Daan

ब्राह्मण भोजन + गौसेवा + दीपदान

t1 pricecardline
  • CardLow

    Bhojan and Dakshina will be offered to the number of Brahmans according to your choice in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Gauseva will be offered to the number of cows according to your choice in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Deep Daan will be offered according to your choice in your name. Recorded video of the offerings will be shared with you.

  • CardLow

    Your Name and Gotra will be chanted during the Sankalp in Jagannath Puri Tirth Kshetra

  • CardLow

    आपके नाम से ब्राह्मण (आपकी इच्छानुसार संख्या) को भोजन करवाया जाएगा। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से गाय (आपकी इच्छानुसार संख्या) की सेवा की जाएगी। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके नाम से दीपदान (आपकी इच्छानुसार संख्या) किए जाएंगे। इसका रिकॉर्डेड वीडियो आपसे शेयर किया जाएगा।

  • CardLow

    आपके इस पुण्य कार्य से पहले जगन्नाथ पुरी तीर्थ क्षेत्र में संकल्प के समय, आपके नाम और गोत्र का उच्चारण किया जाएगा

bookendL

bookend

bookendL

bookend

Thursday, 29 June, 2023

Brahman Bhojan, Gau Seva and Deep Daan in Badrinath Dham on Ekadashi

गुरुवार, 29 जून 2023

एकादशी पर बद्रीनाथ धाम में ब्राह्मण भोजन, गौ सेवा और दीपदान

Sunday, 7 May, 2023

Purnima Special Brahman Bhojan, Gau Seva and Deep Daan in Kashi

रविवार, 7 मई 2023

काशी में पूर्णिमा विशेष ब्राह्मण भोजन, गौ सेवा और दीपदान

bookendL

bookend

Started by IIT graduates, DevDarshan is Devotional Platform for 5000+ Hindu Temples in the Indian Subcontinent. DevDarshan’s long term vision is to provide a digital platform to Temples and Gurus for sharing the millennia-old teachings of Indian culture in the world and by doing so, projecting Bharat (India) as Vishwa Guru (Universal Leader) through its rich cultural and spiritual heritage.


DevDarshan facilitates online Daily Darshan, Pujas and Digital Donations for Devotees. DevDarshan has onboarded 150+ Temples across 16 states including but not limited to Jyotirlinga Ghushmeshwar Nath Temple (Pratapgarh), Jyotirlinga Mamleshwar (Omkareshwar), Kaal Bhairav Mandir (Ujjain), Chintaman Ganesh Mandir (Ujjain), Tapkeshwar Mandir (Dehradun), Pashupati Nath Mandir (Haridwar), Shaktipeeth Chamunda Devi (Kangra), Shaktipeeth Maa Bajreshwari Devi (Kangra), Shaktipeeth Maa Baglamukhi Mandir (Kangra), Shaktipeeth Maa Vindyavasini Mandir (Mirzapur), Shaktipeeth Maa Harsiddhi Mandir (Ujjain), Shaktipeeth Maa Gadkalika Mandir (Ujjain), Bijasan Mata Mandir (Indore), Kalkaji Mandir (Delhi), Durgiana Mandir (Amritsar), Maa Mundeshwari Temple (Bihar), Vrindavan Chandrodaya Temple, Badi Kali ji Mandir (Lucknow), Nagvasuki Mandir (Prayagraj), ISKCON (Vrindavan), ISKCON (Ghaziabad), ISKCON (Srinagar).


You can find more details about DevDarshan and our team.

IIT स्नातकों द्वारा आरम्भ किया गया,देवदर्शन, भारत के 5000+ हिंदू मंदिरों के लिए आध्यतमिक मंच है। देवदर्शन का दृष्टिकोण हिंदू मंदिरों और गुरुओं को एक डिजिटल मंच प्रदान करना जहाँ वे भारत की आध्यात्मिक शिक्षा एवं हिंदू जीवन शैली का प्रसार कर सके और पूरे विश्व को विश्वगुरु भारत की महान संस्कृति व विरासत का ज्ञान दे सके। देवदर्शन पर मंदिर दर्शन, पूजा बुकिंग और डिजिटल दान की सुविधा उपलब्ध है।


देवदर्शन मंच के साथ 16 राज्यों में स्थित 150+ मंदिर जुड़े हुए है: ज्योतिर्लिंग घुश्मेश्वर नाथ (प्रतापगढ़), पशुपति महादेव मंदिर (हरिद्वार), ज्योतिर्लिंग ममलेश्वर (ओंकारेश्वर), काल भैरव मंदिर (उज्जैन), चिंतामन गणेश मंदिर (उज्जैन), टपकेश्वर मंदिर (देहरादून), जगन्नाथ पूरी, शक्तिपीठ चामुंडा देवी (कांगड़ा), शक्तिपीठ मां बजरेश्वरी देवी (कांगड़ा), शक्तिपीठ मां बगलामुखी मंदिर (कांगड़ा), शक्तिपीठ मां विंध्यवासिनी मंदिर (मिर्ज़ापुर) , शक्तिपीठ मां हरसिद्धि मंदिर (उज्जैन), शक्तिपीठ मां गडकलिका मंदिर (उज्जैन), बिजासन माता मंदिर (इंदौर), कालकाजी मंदिर (दिल्ली), माँ मुंडेश्वरी मंदिर (बिहार), वृंदावन चंद्रोदय मंदिर, बडी काली जी मंदिर (लखनऊ), नागवासुकी मंदिर (प्रयागराज) आदि आप देवदर्शन और हमारी टीम के बारे में अधिक जानकारी यहाँ प्राप्त कर सकते हैं।

Recorded video of your pious work will be available to the Devotees.


Recorded video of Event will be available on DevDarshan App , which you can download on your Android Smartphone. Recorded video will also be available on DevDarshan YouTube Channel and DevDarshan Facebook page. More details will be shared with you via whatsapp and email once you register for the Puja.


Your Name and Gotra will be chanted during the virtuous work so that your wishes can be fulfilled.

श्रद्धालुओं को उनके पुण्य कार्य का रिकॉर्डेड वीडियो उपलब्ध करवाया जाएगा।


रिकार्डेड वीडियो देवदर्शन ऐप में उपलब्ध होगी, जिसे आप इस लिंक के माध्यम से अपने एंड्रॉयड स्मार्टफ़ोन पर डाउनलोड कर सकते हैं।


रिकॉर्डेड वीडियो देवदर्शन यूट्यूब चैनल और देवदर्शन फेसबुक पेज पर भी उपलब्ध होगी। पूजा के लिए पंजीकरण करने के पश्चात, और अधिक जानकारी व्हाट्सएप और ईमेल के माध्यम से आपके साथ साझा की जाएगी।


आपका नाम और गोत्र का उच्चारण करके इस शुभ कार्य की शुरुआत की जाएगी, ताकि आपकी मनोकामना जल्दी पूरी हो सकें।

According to the Hindu calendar, the eleventh day of Krishna and Shukla Paksha is called Ekadashi. Altogether there are 24 Ekadashis in a year and all Ekadashis have their own importance. Ekadashis are especially dedicated to Lord Vishnu. Ekadashi in India is considered an important day to cleanse, repair and rejuvenate the body and is usually observed by partial or complete fasting.


Ekadashi is also called Hari Vasar. It means the day of Hari - Lord Vishnu. Special worship of Lord Vishnu is important on this day. Also, this day is considered the best day for charity. On this day, by donating food to the hungry, clothes, slippers, etc. to the needy person, arranging fodder for the cows in the Gaushala and by Deep Daan (donating lamps) at holy places, long life and good health, wealth, fame and prosperity are attained. According to the Hindu Puranas, Lord Vishnu presides over this universe and on Ekadashi Tithi, his doors are open to all the devotees. Worshipping Lord Vishnu on Ekadashi Tithi with donations and devotion to Lord Vishnu never goes in vain and one can gain beneficial results.

हिंदू पंचांग के अनुसार कृष्ण और शुक्ल पक्ष की ग्यारहवीं तिथि को एकादशी कहा जाता है। कुल मिलाकर पूरे साल में 24 एकादशी होती है और सभी एकादशी का अपना महत्व है। एकादशी तिथि पर भगवान विष्णु का अधिकार है। भारत में एकादशी को शरीर को शुद्ध करने, मरम्मत और कायाकल्प करने के लिए एक दिन माना जाता है और आमतौर पर आंशिक या पूर्ण उपवास द्वारा मनाया जाता है । एकादशी को हरि वासर भी कहा जाता है। इसका मतलब है हरि का दिन। इस दिन भगवान विष्णु की विशेष पूजा का महत्व है। साथ ही दान-दक्षिणा के लिए यह दिन सर्वोत्तम माना जाता है। इस दिन दान करने से, भूखे को भोजन कराने से, जरूरतमंद व्यक्ति को वस्त्र, चप्पल आदि दान करने से, गौशाला में गायों के लिए चारे का प्रबंध करने से और पवित्र स्थानों पर दीपदान करने से आयु और स्वास्थ्य लाभ, धन और समृद्धि की प्राप्ति के साथ यश की प्राप्ति होती है। हिंदू पुराणों के अनुसार भगवान विष्णु इस सृष्टि का संचालन करते हैं और एकादशी तिथि पर उनके द्वार सभी भक्तों के लिए खुले रहते हैं। दान-दक्षिणा और विष्णु भक्ति के साथ एकादशी तिथि पर की गई पूजा कभी व्यर्थ नहीं जाती है और शीघ्र ही इसके सुखद परिणाम सामने आ जाते हैं।


Those who study Vedic Sanatan culture and perform auspicious rites and rituals such as Yagyas, Pujas.are referred as Brahmans. Especially, in scriptures, Brahman Bhojan has been described as fruitful and virtuous. On any auspicious occasion, offering food to a Brahman, brings happiness and prosperity to the house. The other deities including the ancestors are satisfied when food is offered to Brahmans. The desire for good progeny is also fulfilled. Children remain healthy and lead a long and healthy life.


वैदिक सनातन संस्कृति की पढ़ाई करने और यज्ञ आदि शुभ कार्य करवाने वाले लोगों को ब्राह्मण कहा जाता है। शास्त्रों में ब्राह्मण भोजन को विशेष फलदायी और पुण्यदायी बताया गया है। किसी भी शुभ अवसर पर ब्राह्मण भोजन करवाने से घर परिवार में सुख शांति बनी रहती है। ब्राह्मण भोजन से पितृ सहित अन्य देवता संतुष्ट होते हैं। ऐसे व्यक्ति की संतान प्राप्ति की इच्छा भी जल्दी पूरी होती है। जिनकी संतान है, उनकी संतान निरोगी और लंबी आयु वाली होती है।


Cow is considered the most sacred in Hinduism. Cow has been given the status of Mata (mother) in Hindu culture. It is believed that the entire universe, Tridev - Lord Brahma, Lord Vishnu and Lord Mahesh along with 33 crore deities as well as Maha Lakshmi, Maha Saraswati and Maha Kali reside in a cow's body. All the deities are served by offering cow service. Gauseva also protects Devotees from accidents and calamities. Cow service can be performed for wealth, prosperity, success, opulence and for the resolution of planetary defects.


हिंदू धर्म में गाय को सबसे पवित्र माना गया है। गाय को हिंदू संस्कृति में मां का दर्जा दिया गया है। ऐसी मान्यता है कि गाय के शरीर में समस्त ब्रह्मांड, त्रिदेव ब्रह्मा, विष्णु, महेश के साथ 33 कोटी देवता, महालक्ष्मी, महासरस्वती और महाकाली का वास है। गौसेवा से समस्त देवी देवताओं की सेवा होती है। गौसेवा से समस्त विपदा दूर हो जाती है। धन, धान्य, संपत्ति, ऐश्वर्य, विपदाहरण और ग्रह दोष निवारण के लिए गौसेवा का कार्य जरूर करना चाहिए।


Deep Daan means lighting a lamp and keeping it at a holy place or offering it to holy river. Deep Daan should be performed to avoid untimely death, attract wealth and love, satiate souls of ancestors, for the resolution of Navagraha Doshas and to gain success in life. Donating lamps on auspicious day will expel darkness and negativity from your life.


दीपदान का अर्थ है दीपक प्रज्वलित करके किसी पवित्र स्थान पर रखना या बहती नदी में प्रवाहित करना। अकाल मृत्यु से बचने, लक्ष्मी और प्रेम प्राप्ति, पितृों की शांति, नवग्रह के दोष दूर करने, ग्रह कलेश दूर करने, मांगलिक कार्य की सफलता के लिए दीपदान किया जाना चाहिए। बड़े त्यौहारों, अमावस्या या पूर्णिमा, संक्राति आदि पर दीपदान करने से विशेष यज्ञों का फल भी प्राप्त होता है।

In case, you don't know your Gotra, add your caste during the registration process for Puja. In case you don’t know that, add your full name during the registration process. These details would be chanted by Pandit ji during Puja. Feel free to contact us at +919015367944

यदि आपको अपना गोत्र पता नहीं है, पूजा के लिए पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान अपनी जाति लिखे। यदि ,आप यह भी नहीं जानते तो, पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान अपना पूरा नाम लिखे। इन विवरणों का पंडित जी द्वारा पूजा के दौरान जाप किया जाएगा। आप हमसे यहाँ पर समपर्क +919015367944 कर सकते है।

bookendL

bookend
WhatsappImage
WhatsappImage